Home » Posts tagged "Body Strength"

Aloe Vera Medicinal use in Ayurveda

Aloe Vera Suffering from a digestion malady. Which one ?constipation , acidity, excessive wind formation, indigestion, loss of hunger or piles! Would you like to follow a single cure. Try using Aloe vera or Ghritkumari. The small 1 to 2 feet long herb, having big and fleshy leaves with mildly thorny outline is easy to find. Now days a number of cosmetics contain Aloe vera as the main ingredient. In...

Read More »

कैसे अंजीर से कब्ज , मुंह के छाले, दमा तथा दांतों में दर्द से रहत देता है |

अंजीर के लाभ (FIG Benefits) अंजीर एक ऐसा फल है जो जितना मीठा है। उतना ही लाभदायक भी है।अंजीर के सूखे फल बहुत गुणकारी होते हैं। अंजीर खाने से कब्ज दूर हो जाती है। गैस और एसीडिटी से भी राहत मिलती है। साधारण कब्ज में गरम दूध में सूखे अंजीर उबाल कर सेवन से सुबह दस्त साफ होता है। इससे कफ बाहर आ जाता है। सूखे अंजीर को उबाल कर...

Read More »

The basis of good health is optimistic views, Home Remedies

अच्छे स्वास्थ्य का आधार -आशावादी विचार  जैसा हम सोचते है, वैसा पते है | वैसा ही स्वास्थ्य भी होने लगता है | ताकि जैसी भावना, फल भी वैसे ही | आज यह प्रमाणित हो चुका है की जैसा मन होगा, वैसा ही तन होगा | मनोबल बना रहेगा तो स्वस्थ तन पा लेंगें | जिसका मनोबल टुटा, स्वास्थ्य भी बिगड़ा | सोचें तो स्वस्थ बने रहने की | रोगी बनकर...

Read More »

The Basis Of Good Health: Optimistic Views

अच्छे स्वास्थ्य का आधार : आशावादी विचार जैसा हम सोचते हैं, वैसे पाते हैं | वैसा ही स्वास्थ्य भी होने लगता है | ताकि जैस भावना, फल भी वैसा ही | आज यह प्रमाणित हो चूका है कि जैसा मन होगा, वैसा ही तन होगा | मनोबल बना रहेगा तो स्वस्थ तन पा लेंगे | जिसका मनोबल टुटा, स्वास्थ्य भी बिगड़ा | सोचें तो स्वस्थ्य बने रहने की | रोगी...

Read More »

The Importance Of Body Massage – Home Remedies

शरीर की मालिश का महत्त्व बहुत तेल की या घी से मालिश करने या कराने की भारत में सदियों पुराणी परंपरा है | जरूरी नहीं कि पहलवान ही मालिश करवाते हैं, यह सबके लिए उपयोगी है |  सामान्य स्वास्थ्य वाले व्यक्ति के लिए मालिश शरीर में संजीवनी का संचार कर देती है, जबकि साधारण रोग वाले व्यक्ति को मालिश से स्वास्थ्य लाभ मिल जाता है | उसका रोग शांत होता...

Read More »

“Dry Ginger (सांतव सोंठ)” multiple uses in Ayurveda

सांतव सोंठ सोंठ वादी को मारने वाली एक जड़ी है । इसका सेवन करने के लिए – सोंठ 10 ग्राम गुड़ 40 ग्राम इन दोनों को मिलाकर खाने से हर प्रकार कर दर्द शरीर में से बहार निकल जाता है । 10 ग्राम सोंठ को पीसकर नमक में मिलाकर घी में तल लें । अब इसे थोड़ा-थोड़ा सुबह-शाम खाना शुरू करें तो आपका शरीर चुस्त रहेगा । सफेद मुसी इससे...

Read More »

“Gram (Chickpeas)” benefits for humen body in Ayurveda

चना चना न तो कोई जड़ी-बूटी है न ही कोई वृक्ष | यह खेती-बाड़ी द्वारा पैदा  होने वाला एक पारकर का गुणकारी अनाज है | इसका पौधा एक फुट अथवा कुछ अधिक बड़ा होता है | इसकी फसल फरवरी-मार्च मास में पककर तैयार होती है | चना कच्चा हो या पक्का या इसके पत्ते हों, इसे हर पारकर से खाने के लिए उपयोगी माना गया है | चना एक है...

Read More »