Home » Cause and Prevention » Simple Herbal treatment of arthritis, Herbal Tips

गठिया के सरल उपचार

जिस तन लगे वह मन जागे | दुसरो को क्या पता | गठिया रोग की पीड़ा बड़ी कस्टदायक होती है | इस रोग को ठीक करने के लिए बहुत से घरेलू उपचार उपलब्ध है | जानिए इन्हें :-

ss

  • कचचे करेले का रस निकालें | इसे गर्म कर मालिश करे |
  • नाग केसर के बीजों का तेल लें | इसकी मालिश करें |
  • पीलू के पत्ते लें | इन पर तेल चुपड़े | गर्म करें | प्रभावी अंगों पर बांधे | आराम मिलेगा | पीड़ा कम होने लगेगी |
  • फालसा की जड पा सकें तो इसका काढ़ा तयार करें | इसे पींए |
  • कुलिंज्न को रीठा के पत्तों के साथ औटाकर पी लें |
  • महूए की छाल को पीसें | गर्म करें | इसका लेप करें |
  • गठिया के रोगी को टमाटर खाते रहना चाहिए | टमाटर का सूप पीने से जल्दी आराम आता है |
  • प्याज का रस तीन चमच निकालें | इसमें राइ का तेल भी तीन ही चमच डालें | इसे कुछ दिनों तक दोहराएँ | काफी सुख मिलेगा |
  • तुलसी के पतों को उबालें | भाप उठने दें | प्रभावी अंग पर यह पड़ने दें | बाद में इसका पानी जब सहन करने योग्य गर्म रह जाए तो इससे प्रभावी अंग को धोए | रोगों को खिलाएं |
  • हरी मेथी का साग खाने को दें | लाभ मिलेगा |
  • मेथी के बीज घी में भूने | पीसें | इसके लडू बनाएं दिन में दो बार एक एक लाडू खाएँ |
  • गठिया को शान्त करने के लिए लहसुन के तेल की मालिश करें | कुछ दिंनों में पूरा आराम मिलेगा |
  • लहसुन की पाँच कलियाँ मामूली कूटकर दूध में उबालो | ऐसी दो खुराक प्रतिदिन लेने से गठिया ठीक होगा |
  • यहाँ बहुत से उपचार दिए गए है जो गठिया के रोगी को ठीक कर सकते है | अपनी सुविधानुसार अपनाएं आवस्यकता हो तो किसी चिकित्सिक से भी परामर्श लें सकते है | अंग्रेजी दवाओं से बचना ही भला |

About

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Name
Email
Website

Popular post

“Revand Chini (रेवट चीनी)” beneficial for Constipation urine disease
“Banyan (बरगद)” properties and advantages in Ayurveda
“Luffa Echinata (देवदाली)” medicinal uses in Ayurveda
“Talis Patra (तालीस पत्र)” medicinal uses in Ayurveda
Herbal treatment and health benefits of Stevia herb-“Herbal Medicinal Plants” 

Trending

Like Us