Home » Posts tagged "Piles"

“Haritaki”, “हरीतकी/ हरड़” Medicinal uses and Health Benefits, Dosage, Facts, Medicinal Properties & Side Effects, Complete Health Guide

  Haritaki, हरीतकी/ हरड़ Medicinal Benefits     Botanical Name-Terminalia chebula Common Name-Harad Family-Combretaceae (Haritaki Kul) Habit-Tree (60-80 ft. in height)   Properties Property-Lightness, Dryness Taste-Five tastes (except salt, mainly fragrant) Potency-Heating Metabolic Property-Sweet   Specific Property Tridoshar Stomachic Intellect promoting Rejuvenating Part Used-Fruit   Description-It is called as haritaki because it carries away all diseases or it is sacred to Siva (Hara). Haritaki has several interesting synonyms, portraying its...

Read More »

“Kutaj Tree” Medicinal uses and Health Benefits, Dosage, Facts, Medicinal Properties & Side Effects, Complete Health Guide

    Kutaj Tree Medicinal Benefits       Botanical Name—Holarrhena antidysenterica Common Name—Kuda Family—Apocynaceae (Kutaj Kul) Habit—A small lactiferous, deciduous tree, 30-40 ft. in height Properties- Property—Lightness, dryness Taste—Bitter, astringent Potency—Cooling Metabolic Property—Pungent Specific Properties- Kaph-pitta-samak .Stomachic & digestive Anti-haemorrhoidal Anti-diarrhoel Blood purifier Anti-Leprotic Parts Used—Bark, seed Description—Kataja plant is fabled to have sprung from the drops of amrta or elixir of life, which fell on the ground from...

Read More »

Herbal Home remedies for Anal Diseases, “Piles”,”बवासीर का इलाज” Symptoms, Reasons, Causes -“Herbal Treatment”

बवासीर (Piles) Piles – Symptoms, Reasons, Causes   परिचय:- बवासीर के रोग का इलाज करने से पहले यह जानना आवश्यक है कि इसके होने का क्या कारण होता है? तथा इसके लक्षण क्या है?           वैसे प्राचीनकाल से ही देखा जाए तो सभ्यता के विकास के साथ-साथ बहुत सारे असाध्य रोग भी पैदा हुए हैं। इनमें से कुछ रोगों का इलाज तो आसान है लेकिन कुछ रोग ऐसे भी हैं...

Read More »

First aid treatment of piles (hemorrhoids) its causes and diagnose- “Piles (hemorrhoids)”

Piles (hemorrhoids) There are varicose veins of the rectum. They may be caused by constipation. They feel like little lumps or balls when they prolapsed out of the anus during defecation or permanently. They cause bleeding per rectum when passing stools. They are painful when they get thrombosed. A hemorrhoid begins to bleed. The person develops anemia due to chronic blood loss. First aid Give diet rich in fiber Give...

Read More »

Medicinal use of VishKhpra in Bloody piles, Eye diseases

विषखपरा विषखपरा का पौधा बहुत छोटे कद का होता है । यह अक्सर जमीन पर फैलने पर क्षुप हैं । इस पर गुलाबी रंग के फुल खिलते हैं । इसकी जड़ सफेद रंग की तथा मोटी होती है । यह तीन रंगों में जन्म लेती है । 1. काला, 2.सफेद, लाल इनमें से लाल रंग का विषखपरा अधिक पैदा होता है । यह बात ध्यान रहे कि इसमें से लाल...

Read More »

कैसे अंजीर से कब्ज , मुंह के छाले, दमा तथा दांतों में दर्द से रहत देता है |

अंजीर के लाभ (FIG Benefits) अंजीर एक ऐसा फल है जो जितना मीठा है। उतना ही लाभदायक भी है।अंजीर के सूखे फल बहुत गुणकारी होते हैं। अंजीर खाने से कब्ज दूर हो जाती है। गैस और एसीडिटी से भी राहत मिलती है। साधारण कब्ज में गरम दूध में सूखे अंजीर उबाल कर सेवन से सुबह दस्त साफ होता है। इससे कफ बाहर आ जाता है। सूखे अंजीर को उबाल कर...

Read More »

“Gram (Chickpeas)” benefits for humen body in Ayurveda

चना चना न तो कोई जड़ी-बूटी है न ही कोई वृक्ष | यह खेती-बाड़ी द्वारा पैदा  होने वाला एक पारकर का गुणकारी अनाज है | इसका पौधा एक फुट अथवा कुछ अधिक बड़ा होता है | इसकी फसल फरवरी-मार्च मास में पककर तैयार होती है | चना कच्चा हो या पक्का या इसके पत्ते हों, इसे हर पारकर से खाने के लिए उपयोगी माना गया है | चना एक है...

Read More »

“Peelu (पीलू)” beneficial for Hemorrhoids, fever, Urine disease

पीलू पीलू के वृक्ष बहुत टेढ़े-मेढ़े होते हैं । उन पर पीलुओं के बड़े-बड़े गुच्छे फलों के रूप में लगते हैं । इन वृक्ष पर दिसम्बर मास में फुल आते हैं और मार्च मास में फल पक जाते हैं । लाभ तथा गुण बवासीर बवासीर रोगियों के लिए पीलू का रस बहुत ही गुणकारी माना गया है क्योंकि यह रस मीठा होता है । लोग इसे बहुत खुश होकर पीते...

Read More »