Home » Posts tagged "Itching"

First Aid Treatment of Scorpion bite its causes and diagnose- Bites and Stings

Scorpion bite Generally scorpions can be seen in the moist dark places and in rainy season in villages, farms, and jungles. They are not seriously poisonous. But sometime person hypersensitive to its poison can develop serious reaction and may even become unconscious. The condition is diagnosed by the following features. There is burning pain at the site of the sting. Itching and swelling develop around the site. Sensation may be...

Read More »

First Aid Treatment of Chilblain its causes and diagnose

Chilblain It is an allergic reaction to cold and dampness in susceptible individuals. There is patchy constriction of blood vessels of the skin associated with it. It may progress to trench foot if not treated adequately. The condition is diagnosed by the following features. The toes become red. There is intense itching Severe pain develops. Blisters and ulcers may develop. First Aid Warm the part gradually. Shift him to a...

Read More »

First Aid Treatment of Trench foot its causes and diagnose

Trench foot It occurs when there is exposure to temperatures above the critical tissue temperature in presence of moisture over prolonged periods. Predisposing conditions are malnutrition. Deficiency of proteins, vitamins and dehydration. The condition is diagnosed by the following features. There is hyperemia of the pat. The affected part feels numb. Pain, itching and tingling, and paresthesia Blisters appear later. Infection may develop locally. First Aid Rewarm the part gradually....

Read More »

Medicinal use of Kasoda Plant in Weakness, Constipation, Body Head, Itching.

क्सौदा इसका पौधा धरती से दो-तीन फुट ऊंचा होता है, इसकी पत्तियां जामुन की पत्तियों जैसी ही, उसी आकार की होती हैं । इसकी कोई फसल नहीं बोई जाती । यह प्राकृतिक रूप से धरती से जन्म लेता है । इस पर पीले रंग के फुल आते हैं और चपटी फलियां फल के रूप में लगती हैं । फलियों के अंदर पपटे रंग के बीज होते हैं । कुछ लोग...

Read More »

Medicinal use of Betel in Cough and Digestion

सुपारी सुपारी का वृक्ष बहुत लंबा होता है, इसका आकार नारियल के वृक्ष जैसा होता है, यह अधिकतर सागर तट पर पैदा होते हैं। सुपारी के बड़े-बड़े बाग झुंडों के रूप में नजर आते हैं। यह प्राकृतिक रूप से जनम लेने वाला वृक्ष है । जैसा आप वृक्ष के साथ लटक रहे बड़े-बड़े गुच्छों को देख रहे हैं, इन गुच्छों को यदि फोड़ा जाए तो इनके अंदर से सुपारी निकलती...

Read More »

Medicinal use of “Wheat Grass” Herbal Medicinal Plant

WHEAT GRASS One among the best known natural reservoir of health and longevity is the wheat grass. Wheat grass is a young wheat plant about 3 to 4 inches long that can be easily cultivated at home. Being highly nutritious, it is a rich source of amino acids, vitamins and minerals. All the more, a regular intake of the wheat grass extract or its juice is extremely beneficial in increasing...

Read More »

गेहूं के औषधीय गुण, जानिए वीर्यपात, नपुंसकता, बालतोड़ और पथरी में गेहूं किस प्रकार काम आता है |

गेहूं  से बिमारिओं की उपचार  खासी – 20 ग्राम गेहू के दानो की नमक मिलाकर २५० ग्राम जल में उबाल ले और एक –तिहाई मात्रा में रहने पर किचित गरम-गरम पी ले | ऐसा लगभग एक सप्ताह करने से खासी जाती रहेगी | अनेछिक वीर्यपात – रात लो सोते , पेशाब के साथ या पेशाब करने के पश्चात अनिच्छा से वीर्य निकलने की सिथति में अक मुठी गेहू लगभग बाहर ...

Read More »

Best Domestic medicines prevents from diseases. Herbalogy

रोगों से बचाती है घरेलू औषधियाँ वह व्यक्ति भाग्यशाली होता है जिसे रोग नहीं घेरते | जो स्वस्थ रहकर अपनी जिंदगी का आनंद लेता है | किसी को भी रोग हो ही न तो अच्छा | यदि हो भी जाए तो उनसे छुटकारा पाने के लिए अपने डॉक्टर आप बनें | छोटे छोटे रोगों को प्राक्रतिक उपायों से दूर करना कठिन नही है | जरुर है इन्हें जानने और आजमाने...

Read More »

“Fig (अंजीर)” Advantages and benefits in Ayurveda

अंजीर यह अपने-आप में ह एक फलदार वृक्ष है, जो बागों में अनेक फलदार वृक्षों के साथ ही लगा रहता है । इसे पहाड़ी क्षेत्रों में अधिक पाया जाता है । इन के पत्ते बड़े-बड़े और फल अखरोट के आकार के होते हैं, जो पकने पर नरम हो जाते हैं । लाभ तथा गुण अंजीर का पका हुआ फल खाने से सर्दी दूर हो जाती है । खून साफ होता...

Read More »