Cause and Prevention

How to Prevent water loss from your body by Home Remedies

Category: Cause and Prevention Herbal Medicine Plants Herbal Treatment Written by Herbalogy / January 10, 2017

पानी की कमी न होने पाए 

ठोस पदार्थो के बिना हम अपना शरीर चला सकते है | मगर जल के बिना नही |

हमारे शरीर में ७०% पानी है | शेष 30% ठोस | रक्त में तो 90% पानी है | शेष ठोस, बिना पानी शायद ही कोई व्यक्ति जीवित रह पाए | सावधान!

waterhealthy

  • हमारे शास्त्रों में पानी को अमृत मन गया है | जल ही जीवन है | जल ही जीवन की सांसे |
  • पानी हमारे शरीर के स्वास्थ्य व् शक्ति की रक्षा करता है |
  • पानी अंदर ही अंदर अनेक रोगों को उपचार कर देते है|
  • पानी से हम नहाकर, हाथ मुँह धोकर, बाहरी स्वच्छता करते है, जबकि पानी ही अंडर के शरीर को स्वच्छ करता है |
  • पेसाब और पसीना अदि द्वारा भीतरी दूषित तथा विजातीय तत्व बाहर आ जाते है |
  • पानी अपने आप में एक औषधि है | यह शरीर को रोगमुक्त करने में लगा रहता है, पानी चिकित्सा द्वारा भी तो हम रोगों से छुटकारा पा लेते है |
  • प्यास लगने पर जो पानी हम पीते है, इसके अतिरिक्त भी हमारे शरीर में खूब पानी विद्यमान रहता है |
  • दस्त, उल्टियाँ पेचीस कुछ भी लग जाएँ तो इनसे शरीर में पानी की कमी हो जाना आम बात है | हाईड्रेसन न हो, इसके लिए चेत रहने की आवश्यकता है |
  • हमारे खाद्य पदार्थो में भी पानी विद्यमान रहता है | जिन्हें खाने से शरीर में पानी की कुछ आपूर्ति हो जाती है |
  • पानी हमारे लिए पाचक भी है | इसका शरीर में विद्यमान होना भोजन को एचने में मदद करता है |
  • रक्त में उचित मात्र में मिलाकर पानी इसे पतला बनता है | तभी तो रक्त संचार ठीक होने लगता है | खून जमता नहीं | यदि पानी की कमी होगी तो खून गाढ़ा हो जमने लगेगा | रक्त संचार नहीं होने पाएगा | तब अंगों का पोसण नही होगा |
  • व्यक्ति के जिगर, गुर्दा अपने कार्य पानी की सहायता से ही पुरे कर पते है |
  • हमारे शरीर का तापमान बढ़ कर असमान्य न होने पे, पानी यह काम भी देखता है | जो कोई इस और से लापरवाह होकर, शरीर से पानी में कमी होने देता है वह रोग का शिकार हो जाता है | अर्थात अस्वस्थ रहता है | अतः शरीर को उपयुक्त मात्र में पानी मिलता रहे |
Thank for sharing!

About The Author


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *