Home » Cause and Prevention » Simple Herbal treatment of arthritis, Herbal Tips

गठिया के सरल उपचार

जिस तन लगे वह मन जागे | दुसरो को क्या पता | गठिया रोग की पीड़ा बड़ी कस्टदायक होती है | इस रोग को ठीक करने के लिए बहुत से घरेलू उपचार उपलब्ध है | जानिए इन्हें :-

ss

  • कचचे करेले का रस निकालें | इसे गर्म कर मालिश करे |
  • नाग केसर के बीजों का तेल लें | इसकी मालिश करें |
  • पीलू के पत्ते लें | इन पर तेल चुपड़े | गर्म करें | प्रभावी अंगों पर बांधे | आराम मिलेगा | पीड़ा कम होने लगेगी |
  • फालसा की जड पा सकें तो इसका काढ़ा तयार करें | इसे पींए |
  • कुलिंज्न को रीठा के पत्तों के साथ औटाकर पी लें |
  • महूए की छाल को पीसें | गर्म करें | इसका लेप करें |
  • गठिया के रोगी को टमाटर खाते रहना चाहिए | टमाटर का सूप पीने से जल्दी आराम आता है |
  • प्याज का रस तीन चमच निकालें | इसमें राइ का तेल भी तीन ही चमच डालें | इसे कुछ दिनों तक दोहराएँ | काफी सुख मिलेगा |
  • तुलसी के पतों को उबालें | भाप उठने दें | प्रभावी अंग पर यह पड़ने दें | बाद में इसका पानी जब सहन करने योग्य गर्म रह जाए तो इससे प्रभावी अंग को धोए | रोगों को खिलाएं |
  • हरी मेथी का साग खाने को दें | लाभ मिलेगा |
  • मेथी के बीज घी में भूने | पीसें | इसके लडू बनाएं दिन में दो बार एक एक लाडू खाएँ |
  • गठिया को शान्त करने के लिए लहसुन के तेल की मालिश करें | कुछ दिंनों में पूरा आराम मिलेगा |
  • लहसुन की पाँच कलियाँ मामूली कूटकर दूध में उबालो | ऐसी दो खुराक प्रतिदिन लेने से गठिया ठीक होगा |
  • यहाँ बहुत से उपचार दिए गए है जो गठिया के रोगी को ठीक कर सकते है | अपनी सुविधानुसार अपनाएं आवस्यकता हो तो किसी चिकित्सिक से भी परामर्श लें सकते है | अंग्रेजी दवाओं से बचना ही भला |

About

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Name
Email
Website