Home » Ayurveda » “Do not let the Murderous Jaundice (पीलिया को जानलेवा मत होने दें )” Cause and Prevention

पीलिया को जानलेवा मत होने दें 

समय रहते उचित उपचार कर हम पीलिया रोग पर नियंत्रण पा सकते हैं | इस रोग को कभी छोटा मत समझें |

कारण – अधिक चाट, पकौड़ी, बड़ा, पकौड़े, समोसे आदि खाना चटपटे गर्म, खट्टे पदार्थो में अधिक रूचि लेना | जो भी कोई पदार्थ पित्त बढ़ाता हो, उसका अधिक सेवन करना अमाशय का खून या अन्य कारणों से दुर्बल पड़ जाना | 

लक्षण – आँखें पीली होना, पूरा तन पीला पड़ते जाना, भूख ख़त्म हो जाना, पेशाब भी पीला उतरना, कमजोरी महसूस होना, चक्कर आना, ज्वर बना रहना, पेट में अकार की शिकायत, पेट में दर्द बने रहना, तिल्ली होना |

पीलिया में क्या खाएँ

भोजन ऐसा हो जो सुपाचय हो | सुगमता से पचता जाए | गेंहूँ की रोटी, खिचड़ी, दलिया, अनार, मुंग, जौ का पानी, लीची, जामुन, पालक, छाछ में सेंधा नमक जीरा डालकर पीना, नारियल का पानी, नींबू पानी-काली मिर्च डालकर, धनिया, अजवायन एवं बादाम भीगे हुए, करेला, मुली, भुने चने, मिश्री, लौकी की सब्जी, शहद, मौसमी आदि |

पीलिया में क्या ना खाएँ

  • यह रोग अधिक गंभीर न हो इसलिए ये पदार्थ न खाएँ
  • मैदा से बने भोजन
  • उड़द की दाल
  • गर्म मसाले 
  • खोया 
  • तले पदार्थ 
  • लाल मिर्च व मिठाई 

उपचार – जरुरी परहेज तो करना ही है, सुपाच्य भोजन सेवन करना है | साथ ही साथ निम्नलिखित जरुरी उपचार भी करें |

पपीता – रोगी दिन में तीन बार, तीन प्लेट पका पपीता खाया करें |

आलू बुखारा – रोगी पाँच पके मीठे आलू बुखारा प्रतिदिन खाएँ |

लहसुन – लहसुन की पाँच कलियाँ लें | छीलें | एक गिलास दूध में उबालें | रोगी ठंडा कर पी ले | कलियाँ भी खा लें उपचार पंद्रह दिनों तक चलाएँ | 

त्रिफला – एक गिलास पानी में एक बड़ा चम्मच त्रिफला भिगोकर रखें | रात भर रहने दें | प्रांत: छानकर पी जाएँ | ग्यारह दिन पीते रहें |

नीम – नीम के पत्ते धोकर, पीसकर, दो बड़े चम्मच रस निकालें रोगी को पिलाएँ | दो खुराक प्रतिदिन | कुछ दिनों तक ही | 

प्याज – एक प्याज काटें | काली मिर्च, सेंधा नमक, नींबू, के साथ बड़े स्वाद के साथ खाएँ | नींबू के रस में प्याज डुबोकर एक घंटे बाद सेंधा नमक, काली मिर्च डालकर रोगी खा लें | सप्ताह भर ही |

गोभी गाजर – गोभी का रस आधा गिलास | इतना ही गाजर का रस दोनों को मिलाकर रोगी को पिलाएँ | कुछ दिन जारी रखें | 

इलाज तो करना जरुरी है ही | जो इस रोग के कारण है, पहले उन्हें जीवन से निकाल दें | अपनी जीवन शैली को बदल कर, रोग पूरी तरह छुटकारा पाने की कोशिश करें | डॉक्टर की सलाह लेने में कंजूसी न करें |

Do not let the Murderous Jaundice

Jaundice under control in time we can make the appropriate treatment. I do not understand the disease shorter.

The reason – the more licking, dumplings, big, pakoras, samosas and hot savory food, sour substance take more interest. Increases bile is no substance whatsoever, to the high consumption of stomach bleeding or have other reasons to be debilitating.

Symptoms – have yellow eyes, pale tan must be completed, to end hunger, pale discolor urine, feeling of weakness, dizziness, fever remain, complaining of abdominal size, abdominal pain, Staying be spleen.

What to eat in jaundice

Food be easy to digest. Easiness to be digested. Wheat bread, cereal, oatmeal, pomegranate, green gram, barley water, litchi, berries, spinach, cumin, add rock salt to drink buttermilk, coconut water, lemon-pepper, add water, coriander, parsley and almonds wet, bitter gourd , radish(Muli), roasted gram, sugar, vegetable gourd, honey, seasonal, etc.

Do not eat in jaundice

Do not eat these foods because the disease can be serious

  • Food made from flour
  • Urad Dal
  • Hot spices
  • Mawa
  • Fried foods
  • Red chili and sweet

Treatment – if necessary to avoid the same, is digestible food intake. As well as to the necessary treatments.

Papaya – the patient three times a day, eat three plates ripe papaya.

Plum – patient five sweet plum ripe eat everyday.

Garlic – Garlic Take five buds. Peel. Boil a glass of milk. Patient cold drink. Treatment also eat buds run for fifteen days.

Triphala – a glass of water and a tablespoon Soak triphala. Leave overnight. Province: Go to filter P.  Stay drink eleven days.

Neem – Neem leaves, washed, ground, take two tablespoons juice give to the  patient. Two doses per day. Only a few days.

Onion – Cut an onion. Pepper, rock salt, lemon, eat with the big flavor. After an hour of rock salt dipped in lemon juice, onion, pepper and put the patient eat. Also throughout the week.

Cabbage carrots – cabbage juice half glass. Not only carrot juice combined Pilaaa patient. Continue for a few days.

So it’s important to treat the same. Because of the disease, first remove them from life. By changing your lifestyle, try to get rid of the disease entirely. Do not skimp on doctor’s advice.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Name
Email
Website