Home » Ayurveda » “Be Avoids Bad Habits (बचते रहें बुरी आदतों से)” Cause and Prevention

बचते रहें बुरी आदतों से 

bad habbits1स्वस्थ रहने के लिए रोगों से छुटकारा पाने के लिए व्यक्ति को बुरी आदतों से अवश्य दूर रहना चाहिए | अच्छी आदतों रोगों को पास भी नहीं फटकने देती | जिन लोगों ने बुरी आदतों से तौबा कर ली, उन्हें अच्छा तथा रोगमुक्त स्वस्थ ही मिला | ऐसे अनेक उदाहरण हमें उत्साह देते हैं |

जीने की बलवती इच्छा भी कमाल की चीज है | ऐसा क्यक्ति सुगमता से आत्म-संयम की राह पर चल कर सुखी हो जाता है | उसे स्वस्थ रक्षा के नियमों का पालन करने में जरा भी कठिनाई से सुधार सकता है | भयानक से भयानक रोगों पर विजय पाने के लिए आतम-संयम, जीने की प्रबल इच्छा बड़ा काम करती है |

यदि व्यक्ति आशावान बना रहे तो वः मार्क की अनेक रुकावटों को पार कर, लक्ष्य पा लेता है |

बुरी आदतों में ही आता है, वीर्य को खंडित करते रहना स्त्री गमन में बेहद रूचि लेना, शरीर को क्षीण करते जाना आदि | इसीलिए संयमित जीवन आवश्यक है |

शराब का सेवन करना, धुम्रपान करना, गुटका खाना, तले पदार्थ, अधिक मसाले, रेहड़ियों पर बिकने वाले समोसे, टिक्कियाँ, गोलगप्पे, चाट-पकोड़ी, कटे हुए बिक रहे फल खाना, बसी भोजन करना, अधिक मिर्च-मसाले, अधिक मिठाइयाँ, अधिक ठंडे पेय पीना ये सब बुरी आदतें हैं | इनसे हमारा स्वास्थ्य बिगड़ता है | रोग गंभीर हो जाते हैं | इन सबसे बचकर हम पूर्ण स्वस्थ हो सकते हैं |

देर तक सोते रहना – सूर्य उदय के बाद ही उठना, प्रांत: काल की ताजा हवा से बंचित रहना, सैर के लिए नहीं निकलना, व्यायाम से परहेज करना, प्रतिदिन स्नान न करना, मालिस से बचना, स्वच्छता से लापरवाह बने रहना, आदि भी बुरी आदतें हैं | इन्हें भी त्यागें |

मॉस आदि हमारे रोगों को बड़ा सकते हैं | इनका सेवन न करें | गुस्सा हमारा खून सुखाता है | चिंता तो चिता तक पहुँचाती है | तनाव हो तो ढ़ंग से जी नहीं सकते हैं | अंत: इसे पास मत मटकने दें | 

ताजा तथा संतुलित भोजन करें | उतना खाएं जितना जरूरी हो | जो खाएं उसे अच्छी प्रकार चबाएँ | आप स्वस्थ होते जाएँगे |

ईश्वर का ध्यान करना, उसका धन्यवाद करना, उससे अच्छे स्वास्थ्य की कामना करना | वह कृपा-निधान चाल-चलन को बदलकर, बुरी आदतों से छुडवा कर अच्छी आदतें पाने में अवश्य मदद करेगा तथा रोग मुक्त भी |

Be Avoids Bad Habits

bad habbitsTo stay healthy person to get rid of diseases should stay away from bad habits must. Good habits is never allowed to diseases. Those who excused himself from bad habits, found them good and healthy disease free. Prompting us to give so many examples.

The desire to live a wonderful thing. Kykti so smoothly on a path of self-restraint is happy. Rules to protect her health could improve in the slightest difficulty. To overcome the terrible terrible diseases self-restraint, strong will to live, works great.

If the person remains hopeful Mark several bars across commodities, attains the goal.

Comes into bad habits, keep her moving extremely well to unravel semen, etc. impair the body. So moderation is necessary.

Alcohol intake, smoking, the pocket-food, fried foods, more spices, sold on Rehdion samosas, cakes, Golgppe, licking-Pakodi, sliced fruit sold food, living food, the more chili-spice, more sweets, drink cold drinks are all bad habits. They have spoiled our health. The disease becomes serious. We are a completely healthy all escaped.

Slumber – after sun rise, Province: Period of stay Bncit of fresh air, not to walk out, avoiding exercise, do not bathe daily, avoid Malis, to be careless hygiene, etc. bad habits. Also discard.

Moss and can expand our diseases. Do not take them. Anger is our blood Sukhata. Anxiety then delivers up the pyre. If stress can not live manner. Therefore, it should not pass Mtkne.

Fresh and balanced meals. Eat as much as necessary. Cbaaa who eat it up well. You will be healthier.

Meditation before God, to thank him, to wish him good health. He pleased-vesting behavior by changing bad habits to good habits must be freed from the disease-free also help.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Name
Email
Website