Home » Herbal Medicine Plants » “Lentils (मसूर)” is beneficial for Eye disease and Leucorrhoea

मसूर

masoor1इसे हमारे देश में दाल के रूप में सेवन किया जाता है । इसकी तासीर गर्म-शुष्क है और खून को बढ़ाने में सहयोग देती है ।

लाभ तथा गुण

मसूर एक फसल के रूप में धरती में से किसान लोग बोकर गेहूं की भांति ही तैयार करते हैं । यह कोई जंगली पौधा नहीं है, न ही यह प्राकृतिक रूप से पैदा होती है । इसे पैदा करने के लिए किसानों को काफी परिश्रम करना पड़ता है ।

आँख रोगों में

मसूर की दाल को देसी घी में छोंक कर प्रति दिन खाने से आंखों के सब रोग दूर हो जाते हैं और नजर भी तेज हो जाती है । यहां तक की चश्मा तक भू छुट जाता है ।

प्रदर तथा रक्तस्त्राव

इन रोगों में मसूर के आटे का चूरमा बनाकर खाने से यह रोग दूर हो जाता है ।

Lentil

masoorIn our country it is consumed as lentils. Impression is a hot-dry and assists in enhancing blood.

Advantages and Properties

Lentil as a crop in the ground, just like the farmers sowing wheat prepare. It is not a wild plant, nor is it naturally arises. Enough to cause it to farmers have to work.

Eye diseases

Conk in lentils, ghee per day all diseases are cured by eating the eyes and the eyes are too sharp. Even the glasses are also exempted.

Leucorrhoea and haemorrhage

In these diseases by eating lentil flour Churma is it cures.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Name
Email
Website