Home » Herbal Medicine Plants » “Stramonium (धतुरा)” beneficial in Apoplexy and Hemorrhoids

धतुरा

datura1धतूरे का पौधा अधिक बड़ा नहीं होता | यह दो रंगों में देखा जा सकता है ।

(1) काला (2) सफेद । इन पर काले और सफेद फुल आते हैं । इसका फल विष ही होता है । इसलिए इसका सेवन बिना किसी वैद्द-हकीम से पूछे बिना नहीं करना चाहिए ।

लाभ तथा गुण

दुखी आंखों व कानों में धतूरे का रस एक-एक बूंद डाल देने से आंख रोग ठीक हो जाता है ।

मिरगी रोग

धतूरे की जड़ का चूर्ण बनाकर मिरगी रोग का दौरा पड़ने पर सुंघा दें तो रोगी को होश आ जाएगा ।

गुण तथा लाभ

बच्चों के पेट में दर्द हो तो धतूरे के पत्तों पर गर्म-गर्म सरसों का तेल लगाकर उन्हें हलके गर्म रहने पर बच्चों के पेट पर बांध दें | इससे पेट दर्द ठीक हो जाएगा ।

बवासीर और भगन्दर रोगों पर

धतूरे के पत्ते प्रतिदिन एक मास तक रोगी के मस्सों और फोड़ों पर बांधने से रोग ठीक हो जाता है ।

 

Stramonium

daturaThe plant is not greater than hare. This can be seen in two colors.

(1) Black (2) White. These are black and white full. The fruit contains a toxin. Therefore, its use should not without asking any Herbal-Doctor.

Advantages and Properties

Sad eyes and ears hare juice drop to put in eye disease is cured.

Apoplexy

The root powder of hare attack epilepsy If the patient regains Sunga.

Properties and Advantages

If children are abdominal pain hare hot mustard oil on the leaves stay warm by placing a light on the stomach of the children tie. It will be abdominal pain.

Hemorrhoids and Fistula diseases

Hare leaves daily from one month to the patient cures warts and boils on the tie.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Name
Email
Website