Home » Ayurveda » Beneficial uses of “Spota (Cheeku)” for fever patients

चीकू

spotaयह फल है | इसके वृक्ष काफी बड़े होते हैं जिन पर खाकी (भूरे) रंग के चीकू लगते हैं, जो पकने के पश्चात् शहद जैसे मीठे हो जाते हैं |

बुखार

बुखार के रोगियों के लिए चीकू खाना बहुत लाभदायक माना गया है, जो लोग मोटे और शुगर का शिकार हैं, उन्हें चीकू का सेवन नहीं करना चाहिए |

Naseberry

spotaIt is the fruit . The trees are much larger on the khaki (brown) color seem sapota, after maturity are sweet as honey.

Fever
Fever is considered very beneficial for patients with eating sapota, fat and sugar in people who are victims, they should not be taken sapota.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Name
Email
Website