Home » Archive by category "Herbs Properties"

Herbal Home remedies for Skin Diseases,”Twacha Rog”,”Charm Rog”,”Elephantiasis”,”Feel Panv ka ilaj”, Symptoms, Reasons, Causes-“Herbal Treatment”

फील पांव (हाथी पांव) (Elephantiasis)  Elephantiasis- Symptoms, Reasons, Causes   परिचय:- इस रोग में रोगी व्यक्ति के पैरों में इतनी सूजन आ जाती है कि उसका पैर हाथी के पैर के समान मोटा हो जाता है इसलिए इस रोग को हाथी पांव भी कहते हैं। यह रोग मनुष्यों के अण्डकोष, हाथ-पैरों पर अधिक होता है। फील पांव होने का कारण–            इस रोग के होने का सबसे प्रमुख कारण फाईलेरिया...

Read More »

Herbal Home remedies for Skin Diseases,”Twacha Rog”,”Charm Rog”,”Cracked Heels”,”Pairo ki Biwai ka ilaj”, Symptoms, Reasons, Causes-“Herbal Treatment”—Part 2

फटी एड़ियां (Cracked heels)  Cracked heels- Symptoms, Reasons, Causes   परिचय:- बहुत से लोग अपने शरीर की तो पूरी तरह से सफाई करते हैं लेकिन अपने पैरों की अच्छी तरह से सफाई नहीं करते जिसके कारण उनके पैरों पर मैल जम जाती है, पैरों की त्वचा मृत सी हो जाती है और जगह-जगह से फट जाती है। इस रोग के कारण रोगी के पैर के तलुवों तथा एड़ी में दरारें...

Read More »

Herbal Home remedies for Intestine Diseases,”Coli​tis ”, “Coli​tis ka Ilaj”, Symptoms, Reasons, Causes-“Herbal Treatment”                         

कोलाइटिस (Coli​tis)  Coli​tis-Symptoms, Reasons, Causes   परिचय:- बृहदांत्र पाचन-क्रिया में शामिल अंग पानी को सोखने तथा अपशिष्ट पदार्थों को बाहर निकालने के लिए उत्तरदायी हैं। इसके कार्य को सही तरीके से चलाने के लिए ऐसे पदार्थों की आवश्यकता होती है जिसमें पानी की मात्रा अधिक हो तथा ऐसा भोजन जिसमें रेशेदार पदार्थ कम होते हों। रेशेदार पदार्थ इसकी कार्य क्रिया में दबाव डालते हैं। जब इसकी कार्य क्रिया में बाधा...

Read More »

Herbal Home remedies for Intestine Diseases,”Gastric Ulcer”, “Anto amin Ghav ke Drad ka Ilaj”,Symptoms, Reasons, Causes-“Herbal Treatment”

आमाशय या आंतों में घाव होने के कारण दर्द(Gastric Ulcer)  Gastric Ulcer-Symptoms, Reasons, Causes   परिचय:- इस रोग में रोगी व्यक्ति के आमाशय में घाव हो जाता है जिसके कारण उसके पेट में बहुत तेज दर्द होता है। रोगी के शरीर के घाव आमाशय की दीवारों पर होते हैं। इस रोग को गैस्ट्रिक अल्सर भी कहते हैं। इस रोग का इलाज प्राकृतिक चिकित्सा से किया जा सकता है। आमाशय या...

Read More »

Herbal Home remedies for Fever,”Typhoid”,”Antrik Jwar/Bukhar(Typhoid) ka Ilaj” ,Symptoms, Reasons, Causes-“Herbal Treatment”

आन्त्रिक ज्वर (Typhoid fever)  Typhoid-Symptoms, Reasons, Causes   परिचय:- टायफाइड रोग में तेज बुखार के साथ दूसरे रोग पैदा होकर इस रोग को अधिक तेज कर देते हैं। इस रोग में विभिन्न रोग उत्पन्न हो जाते हैं जैसे- तीव्र अविराम ज्वर, अतिसार, कब्ज, आध्यमान, अनिद्रा, आमाशय प्रदाह, आन्त्रिक रक्तस्राव, शैयाक्षत, हृदय रोग, मस्तिष्क प्रदाह तथा बक-क्षक करना (सरसाम), फुफ्फुस प्रदाह, संन्यास अवस्था (कोमा), मूर्च्छा वायु, सन्धि प्रदाह, वृक्कप्रदाह तथा अल्ब्यूमेन...

Read More »

Herbal Home remedies for Interposes Disease,”Antrachyuti ka Ilaj”, Symptoms, Reasons, Causes-“Herbal Treatment”

आन्त्रच्युति (Interposes)  Interposes Disease-Symptoms, Reasons, Causes   परिचय:- जब कोई व्यक्ति अपनी शारीरिक क्षमता से अधिक वजन उठाता है या फिर किसी अन्य कारण से आंत अपने स्थान से हट जाती है तो उसे आन्त्रच्युति या नारा रोग कहते हैं। इस रोग के होने पर विभिन्न लक्षण उत्पन्न होते हैं जैसे- पेट का दर्द, पेट में गड़गड़ाहट, दस्त का अधिक आना, कब्ज बनना और मन्दाग्नि आदि रोग हो जाते हैं।...

Read More »

Herbal Home remedies for Fever,”Pleague”,” Pleague ka Ilaj” Symptoms, Reasons, Causes-“Herbal Treatment”

प्लेग (Pleague)  Pleague- Symptoms, Reasons, Causes   परिचय:- प्लेग रोग यह एक महामारी का रोग है। इस रोग को और भी कई नामों से जाना जाता है जैसे-ताऊन, गोटी वाला ज्वर। यह एक प्रकार का संक्रामक रोग है। यह रोग एक बेसीलुस पेस्टिस नामक जीवाणु के कारण होता है। यह कीटाणु सीलन वाले स्थानों, कूड़ा-करकट तथा सड़ी-गली चीजों में पनपता है। ये रोग उन पदार्थों में भी फैलता है जिनमें...

Read More »

Herbal Home remedies for Fever,”Influenza”,”Flu ka Ilaj”, Symptoms, Reasons, Causes-“Herbal Treatment”

फ्लू (इन्फ्लूएंजा)  Influenza- Symptoms, Reasons, Causes   परिचय:- फ्लू एक प्रकार के बुखार को कहते हैं। यह एक प्रकार का संक्रामक रोग है। यह रोग श्वास-प्रणाली के ऊपरी भाग को बहुत अधिक प्रभावित करता है। इस रोग में रोगी को बुखार ठंड लग कर आता है। इस रोग में रोगी को बुखार के साथ सिर तथा शरीर की मांसपेशियों में दर्द होता रहता है। इस रोग के कारण रोगी की...

Read More »