Home » Herbal Medicine Plants » Medicinal use of Rasna in Fever, Stomach Disease and Cough

रास्ना

रास्ना एक बेल की भांति बंगाल में प्राचीन वृक्षों पर उत्पन्न होकर फलती-फूलती है, (देखें चित्र, रास्ना की बेल एक पुराने वृक्ष से लिपटी हुई है) |

रास्ना के फुल पीले रंग के होते हैं | फलियों के अंदर मोठ की भांति छोटे-छोटे दाने होते हैं | इसकी तासीर गर्म होती है | इसके सेवन से पाचन शक्ति बढ़ती है |

खांसी के रोग को दूर करता है | पेट की वायु को दूर करे, कास ज्वर, उदर रोग का भी नाश करता है |

Rasna

Rasna like a vine originated in Bengal, ancient trees and is thriving, (see picture, Vale of Rasna is an old tree-covered).

Yellow are full of Rasna. Moth beans inside are like small seeds. The impression is hot. The digestive power consumption increases.

Removes the disease cough. Stomach to remove air, racy fever, abdominal disease that decimated.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Name
Email
Website